Zindagi Shayari in Hindi | ज़िन्दगी शायरी (Life Shayari)

Zindagi Shayari in Hindi, Zindagi Shayari in Hindi Image, Best Shayari On Life, Zindagi Shayari Hindi, Life Shayari (ज़िन्दगी शायरी) on www.ShubhShayari.in

Zindagi Shayari in Hindi | Life Shayari (ज़िन्दगी शायरी): मेरे प्यारे और न्यारे साथियो या कहु मित्रो, हमारे बुजर्गो ने जिंदगी के बारे में कहा है कि जिंदगी में सुख दुख आता ही रहता है हमे इसको साथ लेकर जीना पड़ता है। बदलती जिंदगी में बहुत कुछ बदल जाता है जिसकी सिर्फ यादें हमारे पास रहती है आजकल की जिंदगी उलझन भरी और सैड होती जा रही है तो ऐसे में जिंदगी को हमे शुक्रिया बोल के जीना चाहिए क्यों कि यह चार दिन की जिंदगी होती है, आगे आपको पता ही है की फिर वो काली काली राते। आगे पढ़े: Zakhmi Dil Shayari : जख्मी दिल शायरी

Zindagi Shayari in Hindi | ज़िन्दगी शायरी

Zindgi Shayari in Hindi - जिंदगी शायरी | Best Shayari On Life

फूल बनके खुशबू फैलना ही है ज़िंदगी,
हर दर्द को हँसी में छुपा लेना ही है ज़िन्दगी,
ज़िंदगी में जीत मिली तो क्या हुआ,
हार कर भी ख़ुशी जताना ही है ज़िंदगी।

जिस उम्र में इंसान ख्वाहिश रखता है,
उसमें तजुर्बे मिल रहे हैं,
ऐ खुदा क्या ज़िन्दगी में हम इतने गुनाह कर रहे हैं।

जिंदगी में मीठा झूठ बोलने से अच्छा है,
कड़वा झूठ बोला जाए,
इससे आपको झूठे दोस्तों से अच्छे सच्चे दुश्मन तो मिलेंगे।

ज़िन्दगी तस्वीर भी है और तक़दीर भी,
फर्क तो सिर्फ रंगों का है।
मनचाहे रंगों से बने तो तस्वीर,
और अनजाने रंगों से बने तो तक़दीर।

Zindagi Shayari in Hindi | ज़िन्दगी शायरी

ज़िन्दगी तस्वीर भी है और तक़दीर भी,
फर्क तो सिर्फ रंगों का है।
मनचाहे रंगों से बने तो तस्वीर,
और अनजाने रंगों से बने तो तक़दीर।

तेरी धड़कन ही जिंदगी का किस्सा है मेरा,
तू जिंदगी का एक अहम हिस्सा है मेरा…
मेरी मोहब्बत तुझसे, सिर्फ लफ्जों की नहीं है,
तेरे रूह से रूह तक का रिश्ता है मेरा

एक अजीब सी दौड़ है ये जिंदगी,
अगर जीत ✌️ जाओ तो अपने पीछे छूट  जाते हैं,
और अगर हार जाओ तो अपने ही पीछे छोड़ जाते हैं।

कभी जो जिंदगी में थक जाओ,
तो किसी को कानो कान खबर भी न होने देना,
क्योंकि लोग टूटी हुई इमारतों की ईंट तक उठा कर ले जाते हैं।

सिर्फ सांसे चलते रहने को ही ज़िन्दगी नही कहते
आँखों में कुछ ख़वाब और दिल में उम्मीदे होना जरूरी है

मौत मिलती है ना ज़िंदगी मिलती है
ज़िन्दगी की राहों में बेबसी मिलती है रुला देते हैं
क्यों मेरे अपने जब भी मुझे कोई ख़ुशी मिलती है

ज़िन्दगी ऐसी नहीं हर किसी के लिए
जीना मुश्किल नहीं सभी के लिए
हम जीते है अपने ग़म के सहारे
लोग कहते है हम जीते है खुद के लिए.

Zindagi Shayari in Hindi | ज़िन्दगी शायरी

अब मुझे ज़िन्दगी से प्यार नहीं है, मौत से है,
ज़िन्दगी पे ऐतबार नहीं है.
रोक ले जो उनकी यादों को दिल में आने से,
इतनी ऊँची मेरे दिल की दीवार नहीं है..

ख्वाब कहु तो बिखर जाओगे!
दिल कहूँ तो टूट जाओगे!
लो, तुम्हारा नाम ज़िन्दगी रख देती हु..!
मौत से पहले हमारा साथ न छोड़ पाओगे…

जीना चाहा तो जिंदगी से दूर थे हम
मरना चाहा तो जीने को मजबूर थे हम
सर झुका कर कबूल कर ली हर सजा
बस कसूर इतना था कि बेकसूर थे हम।

अपनी ज़िन्दगी खुद बनाई जाती है
दूसरों को ये काम न दो
प्यार निभाने में कमी रह जाती है
लकीरों को इल्ज़ाम न दो

इतनी बदसलूकी ना कर सुन ऐ ज़िंदगी,
कौन सा मैं यहाँ बार-बार आने वाला हूँ।

Zindagi Shayari in Hindi | ज़िन्दगी शायरी
कुछ खूबसूरत पल याद आते है,
पलकों पर आँसू छोड़ जाते हैं
कल कोई ओर मिले तो हमें ना भूलना
क्योंकि कुछ रिश्ते जिंदगी भर याद आते है

यह ना पूछो कि जिंदगी खुशी कब देती है
यह परेशानी उसकी भी है
जिसको जिंदगी सब देती है

जिंदगी तुम बहुत खूबसूरत हो
इसलिए मैंने तुम्हें सोचना बंद
और जीना सुरु कर दिया है

जीवन की भोर  में कभी सांझ न हो
जो मिल न सके खुदा से वो मांग न हो
खूब चमकें तारे खुशियों के
ज़िन्दगी कभी अमावस वाला चाँद न हो

उजड़े हुए इस ज़माने की याद दिला कर,
मुझे दुखी न कर ऐ ज़िन्दगी।
अब मुझे नईं मंज़िलों का पता बता,
जो बीत गया सो बीत गया।
Zindagi Shayari in Hindi | ज़िन्दगी शायरी

ज़िन्दगी हर हाल में एक मंज़िल माँगती है,
किसी का नाम तो किसी से बस ईमान माँगती है,
बड़ी मेहफ़ूज़ करके रखना पड़ता है दोस्त इसे,
नाराज़ हो जाए तो मौत का सामान माँगती हैं।

शायद यही ज़िंदगी का कड़ा इम्तिहान होता है,
हर एक शख्स किसी न किसी का गुलाम होता है,
कोई ढूढ़ता है ज़िंदगी भर मुकाम को,
और कोई पाकर मंज़िलों को भी बेमुकाम होता है।

सफर ज़िन्दगी का बहुत ही सुहाना है,
हर किसी को किसी न किसी की तालाश है,
किसी के पास मंज़िल है तो रास्ता नहीं,
और किसी के पास रास्ता है तो मंज़िल नहीं।

ज़िन्दगी से पूछिये ये भला क्या चाहती है,
बस एक यह आपकी वफ़ा चाहती है,
कितनी भोली और नादान है ये,
खुद बेवफा है और बदले में वफ़ा चाहती है। 

यह जरूर पढ़िए :

Post a Comment

और नया पुराने